Participating partners:


    याद करो तो याद आएगी ...

  • Amit k. Pandey 'Shashwats'
    Amit k. Pandey 'Shashwats'
    • Posted on October 17, 2017
    याद करो तो याद आएगी ...
    वो पीने लगे अँधेरे में सुबह की आश छोड़ के , बियाबान सफर की चाह रही खुद को ही डफर मान के , लौ सी शमा मुस्कराने जो लगी गली दर गली नजराने , याद आने लगे . कोई पास नहीं फिर भी शालीन यादो की शिल्प ,खुद गुनगुनाने लगे .
    3 People like this
    samar bhaskar2 Guest Likes
    Post Comments Now
    Comments