Participating partners:


    लोकसमाधान शिविर में पहुंचे डॉक्टर :

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on March 20
    लोकसमाधान शिविर में पहुंचे डॉक्टर :


    मानसिक दिव्यांग रानू को व्हीलचेयर, पंचकर्म थैरेपी भी हुआ शुरू :

    दुर्ग - भिलाई :
    थनौद में लोक सुराज अभियान के तहत आयोजित हुए शिविर से थनौद गांव की मानसिक रूप से दिव्यांग लगभग 20 वर्ष की रानू देशमुख को शासन की योजनाओं का लाभ मिलना शुरू हो गया है ।
    पहले ही कुमारी रानू देशमुख का मानसिक दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाया जा चुका है ।
    कुछ दिनों से रानू की हालत खराब होने से उसकी मां ने समाधान शिविर में उपस्थित होकर कलेक्टर दुर्ग उमेश कुमार अग्रवाल के समक्ष अपनी समस्या बताई थी । बेटी के ईलाज और चल-फिर नहीं सकने की समस्या को लेकर वे कलेक्टर से मिली थी ।
    कलेक्टर ने रानू की मां की बताई स्थिति को गंभीरता से लेेते हुए तत्काल समाज कल्याण विभाग के अधिकारी और जिला आयुर्वेद अधिकारी को रानू के घर जाकर जांच करने के निर्देश दिए । कलेक्टर के निर्देश पर समाज कल्याण विभाग के उप संचालक और जिला आयुर्वेद अधिकारी ने रानू के घर जाकर उसकी स्थिति देखी ।
    जिला आयुर्वेद अधिकारी ने रानू का स्वास्थ्य परीक्षण किया । रानू के हाथ-पैर कुछ तिरछे से होना पाए गए और हाथ-पैरों में मूवमेंट भी कम था । तत्काल समाज कल्याण विभाग की तरफ से रानू को आने-जाने की सुविधा के लिए व्हीलचेयर उपलब्ध कराई गई ।
    जिला आयुर्वेद अधिकारी ने रानू को दवाईयां दी और हाथ-पैरों का मूवमेंट ठीक करने पंचकर्म के लिए जिला आयुर्वेद अस्पताल धमधा नाका दुर्ग बुलाया । रानू के घर पर ही दिव्यांगजनों के लिए बनने वाले यूनिक डिसेबिलिटी आईडेंटिटी कार्ड बनाने के लिए भी आवेदन फार्म भरा गया । कार्ड बन जाने से रानू को कई शासकीय योजनाओं का लाभ मिलेगा ।
    आज सुबह रानू को आयुर्वेद अस्पताल धमधा नाका दुर्ग लाया गया और पंचकर्म विधि द्वारा उसका ईलाज शुरू कर दिया गया है ।।

    - घनश्याम जी.वैष्णव बैरागी
    Guest likes 8
    Post Comments Now
    Comments (1)
    • Ghanshyam Bairagi
      Ganeshwar Prasad Patel चुनाव का समय है,इतने दिनों तक स्थानीय सरकार सोये थे।
      चलो देर आये दुरूस्त आये।