Participating partners:


    छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव - 2018 :

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on November 18
    छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव - 2018 :

    दुर्ग भिलाई में -
    प्रचार थमते ही अंतिम बैठक के साथ,
    चौकस तैयारी के साथ प्रशासनिक तैयारी पूर्ण :

    12 लाख 91 हजार 570 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग,
    6 लाख 49 हजार 901 पुरूष मतदाता एवं
    6 लाख 41 हजार 569 महिला मतदाता व
    110 तृतीय समुदाय मतदाता है.
    कुल मतदाताओं में 7 हजार 532 दिव्यांग मतदाता है.

    1442 मतदान केन्द्र,
    7 सहायक मतदान केन्द्र 9 संगवारी मतदान केन्द्र तथा
    23 आदर्श मतदान केन्द्र 584 संवेदनशील मतदान केन्द्र है.

    158 मतदान केन्द्रों में वेबकास्टिंग से सीधा लाईव प्रसारण .
    382 मतदान केन्द्रों में माइक्रो आब्जर्वर नियुक्त -

    भिलाई-दुर्ग : 18 नवम्बर/2018 : विधानसभा निर्वाचन 2018 के अंतर्गत कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी उमेश अग्रवाल ने आज संध्या राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक लेकर आचार संहिता के पालन में मतदान दिवस के अवसर पर किए जाने वाले दायित्वों की जानकारी दी.
    कलेक्टर ने प्रचार-प्रसार के लिए अधिकृत समय समाप्ति के बाद राजनैतिक दलों और उनके प्रतिनिधियों को निर्वाचन आयोग द्वारा विहित निर्देशों का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि अब किसी भी प्रिंट मीडिया के माध्यम से प्रचार प्रसार के लिए एमसीएमसी समिति से विधिवत अनुमति के उपरांत ही प्रचार किया जा सकेगा.
    प्रचार के लिए किए जाने वाले विज्ञापनों का प्रारूप को एमसीएमसी समिति द्वारा परीक्षण उपरांत अनुमति दिया जाएगा.
    प्रचार-प्रसार के लिए समय समाप्ति के बाद अब किसी भी प्रकार की सार्वजनिक प्रचार-प्रसार नहीं किया सकेगा और न ही किसी भी प्रकार के रैली-जुलूस निकाला जा सकेगा. अभ्यर्थी केवल घर-घर जाकर प्रचार कर सकेंगे. किन्तु यह प्रचार रैली या जुलूस की शक्ल में नहीं होना चाहिए.
    बैठक में बताया गया कि मतदान दिवस के अवसर पर अभ्यर्थी पोलिंग एजेंट की नियुक्ति कर सकता है. केवल एक पोलिंग एजेंट ही मतदान के दौरान मतदान कक्ष के अंदर प्रवेश कर सकेगा.
    मतदान दिवस के दिन वास्तविक मतदान के पूर्व माॅकपोल किया जाएगा. माॅकपोल का कार्य वास्तविक मतदान के 75 मिनट पूर्व राजनीतिक दलों के द्वारा नियुक्त एजेंटों की उपस्थिति में किया जाएगा.
    पोलिंग एजेंटो को अनिवार्य रूप से मतदान के लिए निर्धारित समय 8 बजे से कम से कम 75 मिनट पहले उपस्थिति सुनिश्चित करने कहा गया है. माॅकपोल के उपरांत वास्तविक मतदान के लिए मशीन को तैयार किया जाएगा.
    बैठक में यह भी बताया गया कि मतदान केन्द्र से 200 मीटर की परिधि में किसी भी प्रकार की राजनीतिक प्रचार-प्रसार नहीं किया जा सकेगा. 200 मीटर के बाहर पोलिंग एजेंट बैठ सकेंगे.
    इसके लिए निश्चित शर्त निर्धारित किया गया है. वे केवल एक टेबल व दो कुर्सी ही लगा सकता है. किसी प्रकार का टेंट नहीं लगा सकेगा. मतदान दिवस पर कोई भी राजनीतिक दल या अभ्यर्थी मतदाताओं को वाहनों में बैठाकर नहीं ला सकेगा.
    कलेक्टर ने राजनैतिक दल के प्रतिनिधियों से अपील किया है कि वे निर्वाचन कार्य को शांति रूप से संपन्न कराने में अपेक्षित सहयोग करें.

    जिले के 12 लाख 91 हजार 570 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग -

    विधानसभा निर्वाचन-2018 के अंतर्गत कलेक्टर उमेश अग्रवाल ने आज प्रेसवार्ता में जानकारी दी कि निर्वाचन की सभी तैयारियाँ पूर्ण कर ली गई है.
    उन्होंने बताया कि जिले के 12 लाख 91 हजार 570 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. जिले में 6 लाख 49 हजार 901 पुरूष मतदाता एवं 6 लाख 41 हजार 569 महिला मतदाता व 110 तृतीय समुदाय मतदाता है.
    जिले में 1442 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं. कुल मतदाताओं में से 7 हजार 532 दिव्यांग मतदाता है. दिव्यांग मतदाताओं को सुविधाजनक तरीके से मतदान कराने के लिए 717 व्हीलचेयर एवं 1321 रैम्प बनाए गए हैं. दृष्टि बाधित मतदाताओं को मतदान करने में सहायता के लिए 691 ब्रेल फोटोयुक्त वोटर स्लीप तैयार किए गए हैं.
    जिले में 7 सहायक मतदान केन्द्र व 9 संगवारी मतदान केन्द्र तथा 23 आदर्श मतदान केन्द्र की स्थापना की गई है. प्रत्येक मतदान केन्द्र के हिसाब से 1442 मतदान दल का गठन किया गया है. प्रत्येक मतदान दल में पीठासीन अधिकारी, मतदान दल 1,2, 3 की नियुक्ति की गई है.
    इसके साथ ही 145 पीठासीन अधिकारी तथा 435 मतदान अधिकारी रिजर्व में रखे गए हैं. जिले के 1442 मतदान केन्द्र को 132 सेक्टर में विभाजित किया गया है.
    जिले मे 584 संवेदनशील मतदान केन्द्र है. 158 मतदान केन्द्रों में वेबकास्टिंग किया जाएगा. जहाँ से सीधा लाईव प्रसारण किया जाएगा. जिले के 382 मतदान केन्द्रों में माइक्रो आब्जर्वर नियुक्त किए गए है. जिसके देख-रेख मे मतदान संपन्न होगा.

    आदर्श आचार संहिता के दौरान एफआईआर की जानकारी -

    विधानसभा निर्वाचन के दौरान छत्तीसगढ़ कोलाहल अधिनियम के अंतर्गत 8 प्रकरण दर्ज किए गए हैं. इसी तरह संपत्ति विरूपण अंतर्गत 35, लोक प्रतिनिधित्व अंतर्गत 3, आईपीसी धारा के तहत 1, सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत 1, आबकारी एक्ट के तहत 3 प्रकरण दर्ज किए गए हैं. निर्वाचन के दौरान 97 आॅफलाईन से शिकायत प्राप्त हुए है, जिनमें 89 प्रकरणों का निपटारा किया गया है.
    इसी प्रकार भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय शिकायत सेवा में आॅनलाईन के माध्यम से 17 शिकायत प्राप्त हुए है, जिनमें 14 प्रकरण का निराकरण किया गया है. सी-विजिल में 151 शिकायत प्राप्त हुए है, जिसका शत्-प्रतिशत् निराकरण कर लिया गया है. सीईओ पोर्टल मे 88 आवेदनों का निराकरण किया गया है.

    विधानसभावार मतदान केन्द्रों एवं संवेदनशील मतदान केन्द्रों की जानकारी -

    विधानसभा पाटन अंतर्गत 113 सामान्य मतदान केन्द्र व 128 संवेदनशील मतदान केन्द्र है. इसी तरह दुर्ग ग्रामीण अंतर्गत 144 सामान्य व 77 संवेदनशील, दुर्ग शहर अंतर्गत 141 सामान्य व संवेदनशील 68, भिलाई नगर अंतर्गत 107 सामान्य व 56 संवेदनशील, वैशालीनगर अंतर्गत 134 सामान्य व 102 संवेदनशील, अहिवारा अंतर्गत 155 सामान्य व 96 संवदेनशील मतदान केन्द्र है.
    इसी तरह साजा अंतर्गत 51 सामान्य व 48 संवेदनशील, बेमेतरा अंतर्गत 13 सामान्य व 9 संवेदनशील मतदान केन्द्र है.

    मतदान दलों को सामग्री का वितरण,
    मानस भवन, पाॅलीटेक्निक कॉलेज एवं साईंस कॉलेज में -

    विधानसभा निर्वाचन-2018 के अंतर्गत जिले के 1442 मतदान केन्द्रों के लिए आज 19 नवम्बर को मानस भवन दुर्ग, पाॅलीटेक्नि कालेज दुर्ग एवं साईंस कालेज दुर्ग में मतदान दलों को प्रातः 7 बजे से सामग्री का वितरण किया जाएगा.
    मानस भवन दुर्ग मे विधानसभा पाटन, दुर्ग शहर, साजा, बेमेतरा (आंशिक) के लिए, पाॅलीटेक्निक कालेज दुर्ग मे दुर्ग ग्रामीण एवं अहिवारा तथा साईंस कालेज में भिलाई नगर एवं वैशाली नगर विधानसभा क्षेत्रों के मतदान केन्द्रों के लिए मतदान दलों को सामग्री का वितरण किया जाएगा.
    मतदान के पश्चात् जिले के सभी पूर्ण छह विधानसभा क्षेत्र की सामग्री वापसी शंकराचार्य इंजीनियरिंग कालेज जुनवानी मे होगी. साजा एवं बेमेतरा आंशिका विधानसभा क्षेत्र के मतदान केन्द्रों का सामग्री वापसी कृषि उपज मण्डी बेमेतरा में होगी.

    कलेक्टर ने की मतदान करने की अपील -

    विधानसभा निर्वाचन-2018 के अंतर्गत जिले के विधानसभा क्षेत्रों के लिए 20 नवम्बर 2018 को मतदान किया जाएगा.
    कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी उमेश अग्रवाल ने जिले के सभी मतदाताओं से मतदान दिवस पर अवश्य मतदान करने की अपील की है. कलेक्टर ने कहा है कि मजबूत लोकतंत्र के लिए शत्-प्रतिशत् मतदान आवश्यक है.
    उन्होंने मताधिकार का उपयोग करने की अपील करते हुए कहा है कि निर्भिक, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण निर्वाचन कार्य संपन्न कराने मे सहभागिता देवें.
    Post Comments Now
    Comments