Participating partners:


    पद्मश्री फुलबासन बाई यादव का देर रात जामुल में हुआ सम्मान :

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on May 12
    पद्मश्री फुलबासन बाई यादव का देर रात जामुल में हुआ सम्मान :


    कवि सम्मेलन में आलोक शर्मा और शमशीर सिवानी,
    देर रात तक कविताओं के साथ ;
    पद्मश्री फूलबासन बाई सहित कई प्रतिभाओं का किया गया सम्मान :

    भिलाई : हैलो जामुल पत्रिका द्वारा गत रात्रि भिलाई नगर निगम से लगे हुए, नगरपालिका क्षेत्र, शासकीय हायर सेकण्डी स्कूल जामुल में महिला सशक्तिकरण के उल्लेखनीय कार्य के लिए पद्मश्री फूलबासन बाई यादव का सम्मान एवं कवि सम्मेलन तथा हैलो जामुल पत्रिका का विमोचन कार्यक्रम का आयोजन किया.
    इस दौरान नगर पालिका परिषद जामुल की अध्यक्ष श्रीमती सरोजनी चन्द्राकर मुख्य अतिथि के रूप उपस्थित थी. श्रीमती चन्द्राकर ने पद्मश्री फूलबासन बाई सहित जामुल के प्रतिभावान लोगों का सम्मान किया.
    इस अवसर पर आयोजित हास्य व्यंग्य कवि सम्मेलन का आनंद देर रात तक श्रोताओं ने उठाया। पूरे कार्यक्रम का क्षेत्र में लाइव प्रसारण के बावजूद भी अंत तक अपार श्रोता कविताओं के समंदर में देर रात तक गोता लगाते रहे.
    इस कवि सम्मेलन में देश के सुप्रसिद्ध हास्य व्यंग्य कवि आलोक शर्मा ने अपने हास्य व्यंग्य की रचनाओं से श्रोताओं को खूब हंसाया तो फिल्मी गीतकार व अभिनेता शमशीर सिवानी घायल ने अपने चुटिले अंदाज में हास्य व्यंग्य के गीतों से सबको मंत्रमुग्ध कर दिया.
    छत्तीसगढ के जाने माने कवि मीर अली मीर ने छत्तीसगढ की महिमा एवं फिल्म भूलन द मेज में लिखे गीतों से जहां सबको सराबोर किया वहीं बालोद के कवि कैलाश कुंआरा ने अपने कुंआरेपन पर कविता सुनाकर सबको गुदगुदाया.
    कवित्री नीता कम्बोज एवं ओशीन कंबोज ने अपने श्रृंगार रस की गीतों गजलों से समा बांधा. जामुल के कवि इस्माईल आजाद ने अपनी कविताओं से सबको सोचने को मजबूर कर दिया.
    कवि सम्मेलन का संचालन देश के जाने माने कवि आलोक शर्मा ने किया. इस दौरान हैलो जामुल पत्रिका टीम द्वारा सभी कवियों को शॉॅल व श्रीफल से सम्मानित भी किया गया. आभार व्यक्त समिति के मोतीचंदन साहू ने किया.
    Guest likes 3
    Post Comments Now
    Comments