Participating partners:


    हकीकत बयान

  • Abdul hannan
    Abdul hannan
    • Posted on March 27
    हकीकत बयान
    मेरी आंखों की औकात नहीं किसी लड़की को घूर सकती सके,

    याद रहता है कि खुदा ने एक बहन मुझे भी दी है।।
    Guest likes 1
    Post Comments Now
    Comments