Participating partners:


    दिल दरिया

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on November 14
    दिल दरिया
    इक दरिया ही तो खड़ा है
    जिसका दिल सबसे बड़ा है ।
    कोई पूछे ना पूछे
    हमेश देने को आतुर अड़ा है ।।
    कभी किसी ने
    दरिया की हसरत भी पूछा है ।
    कि दिल-दरिया को क्या मिला है ।।
    *********************
    - घनश्याम जी.बैरागी
    =================
    Guest likes 3
    Post Comments Now
    Comments