Participating partners:


    कारवां-ए-इश्क

  • samar bhaskar
    samar bhaskar
    • Posted on March 14
    कारवां-ए-इश्क
    मर गए मजनू अपनी लैला के इंतजार में
    शहीद हो गए सलीम अनारकली के ऐतबार में
    ऐ यारो छोड़ दो ख्वाबों की बस्ती बसाना ,,
    अकेला रह जायेगा इश्क-ए-कारवां इस प्यार में |||
    2 People like this
    samar bhaskar1 Guest Likes
    Post Comments Now
    Comments