Participating partners:


    "बिजली, पानी, रोड नहीं तो अबकी बार वोट नहीं" नारों के साथ किया चुनाव बहिष्कार

  • N. A. Siddiqui@Shibu Khan
    N. A. Siddiqui@Shibu Khan
    • Posted on January 27
    "बिजली, पानी, रोड नहीं तो अबकी बार वोट नहीं" नारों के साथ किया चुनाव बहिष्कार
    "बिजली, पानी, रोड नहीं तो अबकी बार वोट नहीं" नारों के साथ किया चुनाव बहिष्कार

    फतेहपुर । जब-जब चुनाव नजदीक आते हैं तब-तब विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रत्याशी अपनी-अपनी विधान सभाओ में क्षेत्र की जनता से बड़े-बड़े वायदों के साथ वोट मांगने जाते है । इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव का रण सज चुका है और प्रत्येक विधान सभा क्षेत्र में वोट पाकर विधायक बनने का सपना देखने वाले स्थानीय नेता वोट पाने के नाम पर हमेशा की तरह से इस बार भी भोली - भाली ग्रामीण जनता से तरह-तरह के वायदे करते दिखाई दे रहे है लेकिन वोटर अब लगभग-लगभग जागरूक भी होता दिखाई दे रहा है जिससे साबित हो रहा है कि इन झूठे नेताओ के बहकावे में नहीं आयेंगे। इन्हीं सबके चलते विकास के नाम पर अनदेखी करने वालों के लिए जनता ने फैसला किया है कि इस बार चुनाव का बहिष्कार भी करेंगे जिससे शायद शासन-प्रशासन को समझ में आ जाए कि बहिष्कार करने वाले लोगों को वास्तविकता में क्या मुसीबत है । इसी कड़ी में ऐरायां विकास खण्ड के अंतर्गत ग्राम सभा सुल्तानपुर घोष के मजरा पांभापुर में भी लोगो ने चुनाव का बहिष्कार का मन बनाते हुए सड़को पर उतर आये है । ग्रामीणों की माने तो गुलाम भारत से लेकर आजतक इस गांव में न तो कोई सड़क है और न ही बिजली की व्यवस्था है तथा पानी के लिए महज दो हैण्डपम्प व एक कुँआ ही है साथ ही बताते चले कि यह गांव नहर के ठीक नीचे बसा है ग्रामवासियो का कहना है कि बारिस या तेज़ नहर आ जाने से जब पानी बढ़ कर नीचे आ जाता है तो यहाँ बाढ़ जैसे हालात हो जाते है । जिससे आवागमन पूर्ण रूप से बाधित हो जाता है। इसी गांव के वयोवृद्ध रामभवन सिंह यादव का कहना है कि हम लोगों की कई पीढ़ी यहाँ रही व बसी है लेकिन इस दौर में भी आज तक हमारे गांव में बिजली, सड़क का नाम तक नहीं है ऐसे में अब तक की सभी आने जाने वाली सरकारों ने सिर्फ वोट लेकर छलावा करने के सिवाय कुछ भी नहीं किया है इसी के साथ निवासी नव युवक तेज़ सिंह यादव का कहना है कि हर बार झूटे वादों के सिवाय हमें कुछ नहीं मिला है इसीलिए हमारे गांव की बदहाल स्थिति के चलते इस बार हम सभी ग्रामवासी पूर्ण से चुनाव का बहिष्कार करेंगे इसी कड़ी में निवासी अतर सिंह यादव ने कहा कि अभी भी समय रहते प्रशासन ने हमारी मांगो पर कार्यवाही नहीं की तो हम सभी लोग सड़को पर उतरकर चुनाव बहिष्कार के साथ ही अनशन पर भी बैठने को मजबूर हो जाएंगे। अवगत कराना है कि यह छोटा सा गांव जिसमे लगभग 25 घर है और सारे यादव परिवार ही है। इससे साफ जाहिर है कि जिस सूबे में यादव परिवार की सत्ता का डंका बजता रहा हो वहीं ऐसे यादवो के गांव में विकास तनिक भी न होना बहुत सारे सवाल खड़ा करते दिखाई दे रहे है । बहिष्कार करने वालो में महेश सिंह, तेज़ सिंह, अमर सिंह, केदार सिंह यादव, रामभवन सिंह, प्रमोद कुमार, सर्वेश यादव, शीला देवी, राधा देवी, चांदनी देवी, माया देवी सहित सभी ग्रामवासी मौजूद रहे ।
    Guest likes 6
    Post Comments Now
    Comments (4)
    • N. A. Siddiqui@Shibu Khan
      dinesh kumar बेरोजगार युवा जो स्कूल छोड़ चुके हैं
    • N. A. Siddiqui@Shibu Khan
      reshma sharma hame hamesh apne chetna ko bacheye rakhna chahie
    • N. A. Siddiqui@Shibu Khan
      Aarish Khan क्योंकि शवों को श्मशान ले जाने वाली अर्थी पर एक ज़िंदा आदमी हाथ जोड़े बैठा है. 36 साल के राजन यादव उर्फ़ 'अर्थी बाबा' ने आज इस गाँव को प्रचार के लिए चुना है.
    • N. A. Siddiqui@Shibu Khan
      Aarish Khan itni achchhi jankari ke ley bahut shukriya