Participating partners:


    रोजगार की दृष्टि और अंग्रेजी की पुष्टि

  • Amit k. Pandey 'Shashwat'
    Amit k. Pandey 'Shashwat'
    • Posted on September 26, 2016
    रोजगार की दृष्टि और अंग्रेजी की पुष्टि
    य भयानक सत्य है की आज sampurn Hindustan में रोजगार के लिए अनिवार्य रूप से अंग्रेजी की बाध्यता दर्शाई जाती है . haasyaspad तो तब होता है जब ये अंग्रेजी की अनिवार्यता वाले कंपनी/ संस्था हिंदी भाषी प्रदेशों तथा क्षेत्रों में काम करने के लिए भी English जरुरी रखते हैं . निश्चित रूप से इन इलाको में कंपनी की उगाही का श्रेय हिंदी और स्थानीय भाषा को ही जाता है . तो फिर हिंदी और लोकभाषा - भाषियों के कंधे पर सवार होक नेशनल व् इंटरनेशनल कंपनी बनके मालामाल होने की राह खोजते हैं . वास्तव में ऐसा करना हिंदुस्तान के प्रति आधुनिक षड्यंत्र नहीं तो क्या है . यह तो yuvaon को hatotsahit करने की और Hindustani कल्चर के लिए वल्चर साबित होने waali रुपरेखा ही है .
    Post Comments Now
    Comments (2)