Participating partners:


    पहले लोकसुराज अभियान, अब ;

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on March 14
    पहले लोकसुराज अभियान, अब ;


    लोकसमाधान शिविर :

    भिलाई-दुर्ग : छत्तीसगढ़ में प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान 2018 का आगाज आज से शुरू हो गया है । जिले में पहला लोक समाधान शिविर नगरीय निकाय भिलाई के जुनवानी से शुरू हुआ ।
    बताया गया है कि, समाधान शिविर में आवेदनों के निराकरण की दी जाएगी जानकारी विभिन्न योजनाओं से आवेदकों को लाभान्वित किया जाएगा ।
    समाधान शिविर में जनसामान्य से प्राप्त आवेदनों के निराकरण की जानकारी विभागवार दी जाएगी । साथ ही साथ पात्रता अनुसार विभिन्न योजनाओं और सेवाओं से आवेदकों को लाभान्वित किया जाएगा । इसके साथ ही हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत सामग्री और चेक का वितरण भी किया जाएगा । योजना में पात्रता रखने वाले लोगों को स्वीकृति प्रमाण पत्र का वितरण भी किया जाएगा ।
    लोक समाधान शिविर के आयोजन और विभागों के द्वारा किए जाने वाले कार्यवाही के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा, अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं । विभागीय अधिकारियों को निश्चित लक्ष्या निर्धारित कर शासन की मंशा अनुरूप लोक सुराज अभियान का आयोजन करने कहा है ।

    क्या होंगे समाधान :

    फ्यूज एलईडी बल्ब बदले जाएंगे शिविरों में -

    लोक सुराज अभियान के तहत आयोजित होने वाले शिविरों में बिजली विभाग द्वारा पात्र हितग्राहियों को एलईडी बल्बों का भी वितरण किया जाएगा ।
    पूर्व में मुख्यमंत्री उजाला योजना के तहत वितरित किए गए एलईडी बल्बों के फ्यूज या खराब हो जाने की स्थिति में लोक समाधान शिविर में उन्हे बदल कर नये एलईडी बल्ब भी दिए जाएंगे। इस संबंध में छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को बैठक में जरूरी निर्देश दिए गये हैं ।
    उजाला योजना के तहत वितरित एलईडी बल्बों पर शासन द्वारा तीन साल की वारंटी दी गई थी । वारंटी अवधि से पहले खराब होने वाले एलईडी बल्बों को हितग्राही स्वयं शिविर में उपस्थित होकर बिजली विभाग के स्टाॅल पर निःशुल्क बदला सकते हैं ।

    लोक समाधान शिविरों में,
    शासकीय योजनाओं का लाभ लेने ;
    ग्रामीणों को मिलेगी कई सुविधाएँ -

    लोक समाधान शिविर में स्वास्थ्य विभाग, श्रम विभाग, बिजली विभाग, आजीविका एवं कौशल विकास, खाद्य, समाज कल्याण, कृषि विभाग द्वारा हितग्राहियों को लाभान्वित करने के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी ।
    स्वास्थ्य विभाग द्वारा शिविरों में उपस्थित होने वाले लोगों सहित अन्य ग्रामीणों के भी संपूर्ण स्वास्थ्य जांच की व्यवस्था होगी । शिविरों में यथासंभव महिलाओं की स्वास्थ्य जांच के लिए महिला डाॅक्टरों की भी व्यवस्था के निर्देश कलेक्टर श्री अग्रवाल ने दिए हैं । दिव्यांगों की स्वास्थ्य जांच और दिव्यांगता का प्रतिशत प्रारंभिक तौर पर जांचने के लिए भी विशेषज्ञ डाॅक्टरों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। शिविरों में स्वास्थ्य विभाग के स्टाॅल पर कुपोषित बच्चों की जांच के साथ-साथ आम लोगों के ब्लड प्रेशर, शुगर आदि की भी जांच की जाएगी और आवश्यकता होने पर उपलब्धता अनुसार दवाईयां भी ली जाएंगे ।
    श्रम विभाग के स्टाॅल पर असंगठित कर्मकारों, निर्माणी श्रमिकों के पंजीयन की सुविधा होगी । पंजीयन के लिए पात्र हितग्राहियों को आधार कार्ड, बैंक अकाउण्ट नंबर और अपना मोबाईल नंबर बताना होगा। बैंकों में खाते खोलने के लिए भी बैंक के अधिकारी शिविरों में उपस्थित रहेंगे । कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए शिविरों में पंजीयन किया जाएगा ।
    उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शनों का वितरण, रसोई गैस उपयोग में सुरक्षा उपाय और गैस खत्म होने पर सिलेण्डर के रिफिलिंग के बारे में भी हितग्राहियों को बताया जाएगा । समाज कल्याण विभाग द्वारा दिव्यांगों को यंत्रों का वितरण, छूट गए दिव्यांगों का स्वास्थ्य परीक्षण और पेंशन आदि के लिए आवेदन भरवाने की कार्यवाही शिविरों में की जाएगी ।
    शिविरों में आधार कार्ड बनाने के साथ-साथ स्मार्ट कार्ड बनाने की भी सुविधा होगी । किसानों को खेती के उन्नत तरीके बताने और आगामी फसलों के लिए खाद, कृषि आदान आदि की मांग भी शिविरों में ली जाएगी । किसानों के खेतो की मिट्टी की जांच कर बने भू-स्वास्थ्य कार्य भी वितरित किए जाएंगे । सौभाग्य योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को निःशुल्क बिजली कनेक्शन के प्रमाण पत्र भी वितरित होंगे ।
    शिविर आयोजन स्थलों पर छाया, पेयजल और शौचालयों की समुचित व्यवस्था के भी निर्देश जिला प्रशासन ने अधिकारियों को दिए हैं ।

    रिपोर्ट -
    घनश्याम जी. वैष्णव वैरागी
    Post Comments Now
    Comments