Participating partners:


    किसानो को मिले पेंशन

  • RAJESH MISHRA
    RAJESH MISHRA
    • Posted on September 24
    किसानो को मिले पेंशन
    गोंडा रविवार: अखिल भारतीय किसान सभा गोंडा जिला कमेटी की बैठक रविवार को सिंचाई फील्ड हास्टल मे जिलाध्यक्ष कृष्णकांत धर की अध्यक्षता मे संपन्न हुई।बैठक को संबोधित करते हुए प्रांतीय उपाध्यक्ष सुरेश त्रिपाठी ने कहा कि किसानों और दस्तकारो को साठ साल बाद एक हजार रूपये मासिक पेंशन मिलनी चाहिए।प्रांतीय कोषाध्यक्ष शास्त्री प्रसाद त्रिपाठी ने कहा कि सरकार की नीतियां किसान के विरूद्ध है जिससे किसान आत्महत्या करने को मजबूर है।उन्होंने किसानों को एक नवंबर को नई दिल्ली जंतर मंतर पर आयोजित धरना मे हजारों की संख्या मे पहुंचने का आह्वान किया।बैठक का संचालन जिलामंत्री अरुण त्रिपाठी ने किया। इस अवसर पर द्वारिका पांडेय ,गिरधर द्विवेदी, के.एल.चौबे, रजत पांडेय, संदीप पांडेय, दुर्गा प्रसाद चतुर्वेदी, महेश तिवारी, दिनेश त्रिपाठी, भरतलाल त्रिपाठी, भानु प्रताप मिश्रा, राम लखन वर्मा, शिव कुमार तिवारी आदि किसान नेताओं ने विभिन्न समस्याओं के समाधान की बात कही।
    13 People like this
    Prem Chaturvedi12 Guest Likes
    Post Comments Now
    Comments (5)
    • RAJESH MISHRA
      BALRAM SINGHPARIHAR SAB SAKRI WALE MAJA KAR RHE HE AUAAM JANTA MAR RHI HA
    • RAJESH MISHRA
      Mohit Kumar Yadav जिस देश की सकल आय का 80 प्रतिशत महामहिम और माननीयों पर खर्च हो जाता हो उस देश में गरीबों और कमजोरों के लिए क्या बचेगा, उन्हें क्या मिलेगा और जो कुछ थोड़ा बहुत मिलता भी है उसके लिए ढिंढोरा बहुत पीटा जाता है। किसी किसान की आत्म-हत्या पर पीछे से घड़ियाली आँस...  Read more
    • RAJESH MISHRA
      Uma Shankar Bulbul Yadav jay shah ke bare main kya khyal hai.
    • RAJESH MISHRA
      Prem Chaturvedi जिस देश की सकल आय का 80 प्रतिशत महामहिम और माननीयों पर खर्च हो जाता हो उस देश में गरीबों और कमजोरों के लिए क्या बचेगा, उन्हें क्या मिलेगा और जो कुछ थोड़ा बहुत मिलता भी है उसके लिए ढिंढोरा बहुत पीटा जाता है। किसी किसान की आत्म-हत्या पर पीछे से घड़ियाली आँस...  Read more
    • RAJESH MISHRA
      Prakash Anand सर सरकार अगर मसलन किसी भी पार्टी की सरकार सब को पेंशन देती रहे चाहे वह किसान हो आर्किटेक्ट होम इंजीनियर हो वकील हो या कोई भी प्राइवेट सैक्टर का व्यक्ति जो खुद की दुकान चला रहा हूं ऐसे देश कैसे चलेगा सब के सब हराम की कमाई खाकर कुकुर बन सकते हैं क्वालिटी प्...  Read more