Participating partners:


    भिलाई में अमृत फार्मेसी : भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन की अच्छी पहल :

  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi
    • Posted on January 27
    भिलाई में अमृत फार्मेसी : भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन की अच्छी पहल :

    गणतंत्र दिवस के अवसर पर,
    भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा ;
    नवनिर्मित अमृत फार्मेसी की सौगात :

    भिलाई : पचास साल से अधिक समय व्यतीत होने के बाद भी भिलाई इस्पात संयंत्र स्थापित, शहर में स्वास्थ्य सुविधा को लेकर, अक्सर वाद-विवाद होते रहा है ? लेकिन, अब नहीं !
    ज्ञातव्य हो कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में भी अमृत फार्मेसी संचालित होती है | ठीक वैसे ही उच्च गुणवत्ता वाली अमृत फार्मेसी भिलाई इस्पात संयंत्र के सेक्टर-9 हॉस्पिटल में भी खोली जा रही है | अमृत फार्मेसी में दवाएं 20% से 60 % छूट के साथ उपलब्ध होगी |

    # दवाओं की कमी से मिलेगी निजात -

    फार्मेसी में दवाओं की कमी होने की स्थिति में कर्मियों को बाहर से दवा मंगानी या खरीदनी पड़ रही थी | अब इस समस्या से निजात मिल सकेगी क्योंकि अस्पताल के परिसर में ही जेनेरिक दवाओं की दुकान खुलने जा रही है |

    # संयंत्र कर्मियों को रीम्बर्समेंट प्रक्रिया से मिलेगी निजात -

    फार्मेसी में अनुपलब्ध दवाओं के लिए कर्मियों को बाहर से दवा लेने के बाद उसके पुनर्भुगतान के लिए लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था | इस प्रक्रिया को ऑनलाइन करने के लिए लगातार मांग होते रहा है, लेकिन यह प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन नहीं हो पाई तथा कई प्रकार के कागजी कार्यवाही के बाद ही हो पाता था |
    अब कर्मियों को इस प्रक्रिया से गुजरने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि प्रबंधन ऐसी व्यवस्था कर रहा है जिसके तहत उपलब्ध दवाएं मेडिकल बुक दिखाने पर अमृत फार्मेसी से उपलब्ध हो जाएंगी | जिसे कर्मचारी अमृत फार्मेसी से निशुल्क प्राप्त कर सकेंगे तथा उसका भुगतान संयंत्र प्रबंधन अमृत फार्मेसी को सीधे करेगा ।
    इस प्रक्रिया से कर्मचारियों को रीम्बर्समेंट के लिए भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी तथा दवाएं भी उचित मूल्य पर मिल जाएंगे साथ ही साथ प्रबंधन को भी आर्थिक लाभ होगा |

    # सप्ताह में चार दिन मिलेंगे हृदय रोग विशेषज्ञ -

    लगातार मांग के बाद जल्द ही कार्डियोलोजिस्ट की व्यवस्था उपलब्ध होगी | रायपुर के रामकृष्णा केयर तथा एम्.एम्.आई. हॉस्पिटल के साथ अनुबंध हो चुका है तथा 1 फरवरी से ह्रदय रोग विशेषग्य सप्ताह में दो दिन अपनी सेवायें देंगे | इसमें एक एक दिन दोनों अस्पतालों के विशेषज्ञ उपस्थित रहेंगे | इसके अलावा वर्तमान में उपलब्ध बी.एस.आर. के डॉक्टर भी दो दिन उपस्थित रहेंगे इस प्रकार कर्मियों को सप्ताह में चार दिन कार्डियोलोजिस्ट की सुविधा उपलब्ध रहेगी |

    # अस्पताल की व्यवस्था में लगातार सुधार –

    भिलाई की श्रमिक संगठन सीटू, जो लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर मांग करते रहा ने भी अब माना है, कि भिलाई इस्पात संयंत्र में चिकित्सा सुविधा के लिए सेक्टर 9 में स्थित जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा एवं अनुसंधान केंद्र अपने गौरवशाली अतीत के लिए जाना जाता रहा है | पूरे छत्तीसगढ़ राज्य में पिछले कई दशकों से सेक्टर 9 हॉस्पिटल एक मानक रूप में स्थापित रहा है |
    ******************************
    रिपोर्ट -
    घनश्याम जी.वैष्णव बैरागी
    नंदिनी-भिलाईनगर (छ.ग.)
    08827676333
    gbairagi.enews@gmail.com
    ========================

    Post Comments Now
    Comments