Participating partners:


    प्रतिभा दिखाईये, डिग्री नहीं

  • Sushil Kumar Verma
    Sushil Kumar Verma
    • Posted on December 9, 2017
    प्रतिभा दिखाईये, डिग्री नहीं
    मेधावी होने का मतलब क्या है? कैसे पता चले कि किसी का दिमाग तेज है? इसका सबसे आमफहम तरीका मार्कशीट वाला है। आपने कहां से पढ़ाई की है, किस विषय में कितने नंबर लाए हैं, यह बताकर आप किसी नौकरी में इंटरव्यू तक पहुंचने के हकदार हो सकते हैं। मेधा नापने का यह तरीका शायद रूटीन किस्म की चीजों के लिए ठीक हो। परन्तु असली मेधावी व्यक्ति की पहचान यह है कि जहां रास्ता बंद लगे, वहां रास्ता निकाल ले। तेजी से मुश्किलें सुलझाए और कोई नई मुश्किल न खड़ी करे। जहां सब परेशान हों पर समस्या पकड़ में न आ रही हो, वहां जो मामले को स्पष्ट कर सकने वाला एक सटीक सवाल पूछ सके, वही असल में एक मेधावी व्यक्ति है।हर किसी के मन में अपनी जिंदगी का एक खाका होता है, जिसे छोड़ना उसके लिए जिंदगी छोड़ने जैसा ही होता है। लेकिन ज्यादा तेज दिमाग वालों के लिए यह काम पता नहीं क्यों और भी ज्यादा मुश्किल होता है। मेधा अगर बंद रास्ते खोलने की काबिलियत है तो इसकी पहचान इस बात से भी होनी चाहिए कि आप खुद को किसी बंद गली में फंसने से रोक पाए या नहीं, या फंस ही गए तो उससे बाहर निकल पाए या नहीं। वर्तमान समय में डिग्री लेना तो आसान हो गया है!लोग अपनी प्रतिभा को छोड़ डिग्री जुटाने में लगे हैं! अपने प्रतिभा को अव्वल बनाइये, आप खुद कई डिग्रीधारक के मालिक बन जायेंगें!
    सुशील वर्मा,गोरखपुर विश्वविद्यालय
    2 People like this
    Sushil Kumar Verma1 Guest Likes
    Post Comments Now
    Comments