Participating partners:
Group Info
  • Issues
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अगर आपकी है पैनी नजर या कोई समस्या जिसे देखकर अनदेखा नहीं कर सकते हैं आप, तो उन मसलों को BOL INDIA BOl के साथ साझा करें।
    • Bol India Bol
    • 1,845 Followers

Bol India Bol Issues group

Post Box
  • Sushil Kumar Verma
    Sushil Kumar Verma: जनसंख्या बनाम कुपोषण, गरीबी, बेरोजगारी वर्तमान समय में देश के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा होती है, पर इस सब के बीच बुनियादी मुद्दों पर बातचीत जरूरी है। बेरोजगारी, गरीबी, कुपोषण जैसे मुद्दों के अंत में निष्कर्ष निकलता है कि जनसंख्या पर नियंत्रण जरूरी है, जो इन सबकी जड़ है। हम पूरे विश्व में गर्व से...  Read more Thu at 9:32 PM
  • Abhijeet Raj
    Abhijeet Raj: Rejecting Rs 1 small coin in Bihar There is a lot of confusion that surrounds the Rs 1 small coin. Shopkeepers have been blatantly rejecting Rs 1 small coins stating that they are fake or are on the verge of being banned by the Government of India.Due to this people of Bihar have to face p...  Read more Tue at 9:57 PM
  • Poonam Singh
    Poonam Singh: Hamara kya??? Kale dhan k khilaf karyawahi se bhut si companies band ho gayi..achha h....bhut achha h. Lekin kya Sarkar ne ek bar v in companies me Kam krne wale workers k bare me janana chaha ki companies band ho Jane k bad ye log kaise jee rhe h ..jee v rhe h ya mar...  Read more November 15
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: महापड़ाव हुए खत्म । मुद्दे तो रह ही गये ? तीन दिवसीय महाधरना सम्पन्न :
    मजदूर विरोधी नीतियों के विरोध में तीन दिवसीय महाधरना का दिल्ली में समापन हुआ | इस सम्मेलन में सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों की जमकर निंदा की गयी तथा सभी स्तरों पर इसका विरोध करने का निर्णय लिया गया |
    अनिश्चित कालीन हडताल की ...  
    Read more
    November 13
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: नोटबंदी के एक साल : ☆ यहाँ देखें, किसे क्या मिला । ☆
    ~~~~~~~~~~~~~~~~~
    भारतीय प्रजातांत्रिक प्रणाली की व्यवस्था, पूरे विश्व में अलग पहचान बनाती रही है । क्योंकि, मॉनसून के आने के बाद यह तय होता है, कि फसल कैसे होगा । ठीक उसी तरह, चुनाव के बाद सरकार...  
    Read more
    November 11
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: क्या कभी इन मुद्दों का अंत होगा ? दिल्ली में श्रमिक यूनियनों की महाधरना :
    स्वतंत्र भारत में, 70 साल बाद भी श्रमिक-मालिक आमने-सामने हैं ?
    केंद्र और राज्य सरकारें कभी तालमेल बिठाने में कामयाब क्यों नहीं रहे !
    चलिए, आज के श्रमिक क्या कहते हैं यह तो पता चल ही जायेगा ? लेकिन, मालिक और सरका...  
    Read more
    November 10
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: नोटबंदी के एक साल : भिलाई कै श्रमिक - मजदूर क्या सोचते हैं
    ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
    @ मोदी सरकार के एक झूठ का हुआ खुलासा @
    ****************************************
    केंद्र की मोदी सरकार का सबसे बड़ा फैसला रहा, नोटबंदी ? एक साल पूरा होने पर भिलाई के श्रमिक-मजदूर यही सोच...  
    Read more
    November 10
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: भारतीय राजनीति और भारत का किसान : पिछले एक दशक से भारत की राजनीति चुनावों में उलझी हुई है ! जहाँ अन्य मुद्दे धरे के धरे रह जाते हैं ?
    भारत का किसान मुद्दे नहीं हैं, परन्तु उनकी समस्याएँ जरूर मुद्दे बन जाते हैं ; जब-जब चुनाव की बारी आती है ।
    भारत, 80 प्रतिशत ग्रामीण-आ...  
    Read more
    November 8
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: @ कैशलेस के जमाने में 70 किमी दूर कैसे जाएँ ? : रायपुर में जनसुनवाई करना भिलाई की जनता के साथ छल :
    भिलाई की बिजली दरों के टैरिफ पर सुनवाई के लिए छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत नियामक आयोग रायपुर द्वारा जनसुनवाई का कार्यक्रम रायपुर में आयोजित किया |
    भिलाई की विद्युत दरों के लिए जनसुनवाई को भिलाई में किया जा...  
    Read more
    November 3
  • Ghanshyam Bairagi
    Ghanshyam Bairagi: @ क्या रईसी का ढोंग अब रुक पायेगी : ☆ "रईसी" के लिए टिप देना,
    "मजबुर" कर टिप लेने के दिन अब गये ☆
    ************************************
    { होटलों में अब टिप लेना-देना नहीं है अनिवार्य ! }
    ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
    यह, कुछ दिन पहले की खबर है । जो मुझे जिला जनसंपर्क से मिला, प्रश्न ...  
    Read more
    November 3
  • Mohit Innocent Mudgil
    Mohit Innocent Mudgil: मूलतः हमारी मूलभूत आवश्यकता हमे पढ़ाया गया था कि हमारी मूलभूत आवश्यकताएं यानी Basic Needs रोटी कपड़ा और मकान है। किसने तय किया कि हमारी मूलभूत आवश्यकताएं सिर्फ यही है, जिनके बिना हम जीवित नही रह सकते।
    अगर क्रमबद्ध तरीके से चले तो पता चलता है कि
    मकान के बिना जिंदगी बिताई जा सकती है, क...  
    Read more
    October 31
  • Ranveer Singh
  • Social Security
    Social Security: संतान द्वारा मानसिक तथा शारीरिक रूप से प्रताड़ित वृद्ध दम्पतियों का पटना जिलाधिकारी से सहयोग की प्रार्थना सेवा में, जिलाधिकारी महोदय ...  Read more October 27
  • Ram Prakash Singh
    Ram Prakash Singh: राहुल गाँधी नालायक भी रहेंगे तो भी प्रधान मंत्री बन जायेंगे. लेकिन आप का क्या होगा. आलू जी राहुल गाँधी प्रधान मंत्री बन जायेंगे तो, माया,मुलायम,ममता, और नितीश के तो मुंगेरी लाल के हसीं सपने रह जायेंगे क्योंकि अभी उनकी उम्र है लेकिन आपका क्या होगा. क्या आप भी जगजीवन राम की तरह सपने देखके ही चले जायेंगे? क्योंकि अब आप उम्र के आखिरी पड़ाव पर...  Read more October 27
  • Aman Kumar
    Aman Kumar: सोच बदलेगा तभी नजरीया बदलेगा लड़कियों के प्रति समाज को अपनी सोच बदलना होगा October 15