Participating partners:


    वो प्यारी आँखों वाली

  • vijay kumar
    vijay kumar
    • Posted on November 23, 2016
    वो प्यारी आँखों वाली
    वो प्यारी आँखों वाली.
    सपनो में है सझदा वो आँखों वाली..
    हर जगह नजर आती है.
    हर दम मुझे सताती है.
    करीब आकर फिर दूर जाकर.
    हर पल पास बुलाती है.
    अपना नक्श दिखाकर
    फिर जाने खा गम सी हो जाती है.
    कैसे समझू इस नादाँ दिल को.
    वो तो बस अब लगता है मुझे सताती है.
    लेखनकर्ता - विजय कुमार aryan
    1 People like this
    Post Comments Now
    Comments